टिकाऊ विकास लक्ष्यों पर भारत का आश्वासन

टिकाऊ विकास लक्ष्यों पर भारत का आश्वासन

भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि उनका देश टिकाऊ विकास लक्ष्य 2030 तक हासिल करने के लिए पूरी तरह संकल्पबद्ध है. शनिवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक सत्र को सम्बोधित करते हुए उन्होंने भरोसा दिलाया कि भारत समय से पहले ही ये लक्ष्य हासिल कर लेगा और...
‘येरूशलम नहीं है बिकाऊ…’

‘येरूशलम नहीं है बिकाऊ…’

फ़लस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने कहा है कि एक स्वतंत्र और सम्प्रभु फ़लस्तीनी राष्ट्र के बिना मध्य पूर्व क्षेत्र में शान्ति स्थापित नहीं हो सकती. संयुक्त राष्ट्र महासभा के मंच से बुधवार को अपने सम्बोधन में महमूद अब्बास ने विशेष ज़ोर देते हुए कहा कि फ़लस्तीनी...
मल्टीलैट्रलिज़्म का बोलबाला

मल्टीलैट्रलिज़्म का बोलबाला

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 73वें सत्र के दूसरे दिन बुधवार को विभिन्न वक्ताओं ने व्यापर से लेकर जलवायु परिवर्तन तक और विकास से लेकर बीमारियों का मुक़ाबला करने के मुद्दों का ज़िक्र करने के साथ Multilateralism यानी बहुलवाद पर भी ख़ास ज़ोर दिया. Multilateralism दरअसल एक...
टूट रहा है भरोसा, कैसे बचाएँ…

टूट रहा है भरोसा, कैसे बचाएँ…

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है आज के दौर में दुनिया भर में भरोसा टूटा हुआ नज़र आता है. तमाम देशों के राष्ट्रीय संस्थानों में लोगों का भरोसा, देशों के बीच आपसी भरोसा और नियम और क़ानून पर आधारित एक वैश्विक व्यवस्था में भरोसा, सभी चकनाचूर हुआ नज़र आता...
मिलजुलकर चलने का नुस्ख़ा

मिलजुलकर चलने का नुस्ख़ा

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 73वें सत्र की अध्यक्ष मरिया फ़रनेन्डा एस्पिनोसा ने दुनिया भर के सभी इंसानों के लिए बराबरी और टिकाऊ विकास लक्ष्य हासिल करने के प्रयासों में बहुलवाद यानी एक साथ मिलजुलकर काम करने की संस्कृति को बहुत महत्वपूर्ण क़रार दिया है. उन्होंने मंगलवार को...
महासभा का सत्र और इतिहास

महासभा का सत्र और इतिहास

हर वर्ष सितम्बर में देशों के नेता और प्रभाव रखने वाली हस्तियाँ संयुक्त राष्ट्र के न्यूयॉर्क स्थित मुख्यालय में एक पखवाड़े के लिए इकट्ठा होते हैं. इस सत्र में दुनिया भर के ज्वलन्त मुद्दों पर गहन विचार विमर्श होने के साथ – साथ अगले वर्ष के एजेंडे पर भी ग़ौर किया जाता...